Author(s): सेवन कुमार भारती, ओमकुमारी वर्मा

Email(s): omraj957@gmail.com

DOI: Not Available

Address: सेवन कुमार भारती1, ओमकुमारी वर्मा2
1सहायक प्राध्यापक भूगोल, शासकीय महाविद्यालय, प्रेमनगर जिला सूरजपुर छ.ग.
2रिसर्च एसोसिएट, भूगोल अध्ययन शाला, पं.रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय, रायपुर छ.ग.
*Corresponding Author

Published In:   Volume - 8,      Issue - 2,     Year - 2020


ABSTRACT:
आवास एक मूलभूत आवश्यकता है। परन्तु देश के एक बड़े जनसंख्या को सुविधा युक्त आवास उपलब्ध नहीं हो पाया है। छत्तीसगढ़ में ग्रामीण क्षेत्र की स्थिति और भी दयनीय है यहां 80 प्रतिशत जनसंख्या के पास संतुलित, सुविधा युक्त, वातावरणीय, गुणवत्तायुक्त आवास की कमी है। जनसंख्या में प्रतिवर्ष वृद्धि हो रही है उस अनुपात में आवास का निर्माण नहीं हो पा रहा है। फलस्वरूप जनसंख्या एवं आवासीय स्थिति का अनुपात असंतुलित हो रहा है। अत्यधिक भीड़ एवं एकान्तता के अभाव के कारण निवासियों में भावनात्मक एवं मानसिक अषान्ति उत्पन्न हो रही है और रोगग्रस्त होते जा रहे है। शासन द्वारा इस समस्याओं को दूर करने के लिए विभिन्न प्रकार के योजना का क्रियान्वयन किया जा रहा है तथापि अभी भी इस दिशा में ठोस उपलब्धि हासिल नहीं हुआ है जो ग्रामीण नियोजन एवं विकास के लिए महत्वपूर्ण चुनौतियां प्रस्तुत करती है।


Cite this article:
सेवन कुमार भारती, ओमकुमारी वर्मा. ग्रामीण कार्यषील महिलाओं के स्वास्थ्य पर आवासीय दषाओं का प्रभाव, (पूर्वी षिवनाथ बेसिन के विषेष संदर्भ में). Int. J. Rev. and Res. Social Sci. 2020; 8(2):123-131.


संदर्भ-सूची:
1    चैबे, कैलाष (2001)ः स्वास्थ्य/चिकित्सा भूगोल, मध्यप्रदेष हिन्दी ग्रन्थ अकादमी, भोपाल, पृ. 23।
2    राजपूत, प्रेम प्रकाष एवं श्रीवास्तव, रमेष चंद्र (2003)ः निम्न स्तरीय आवासीय सुविधाओं से वंचन महिलाओं के स्वास्थ्य पर प्रभावः दिठियापुर की मलिन बस्तियों का एक प्रतीक अध्ययन, उत्तर भारत भौगोलिक पत्रिका, अंक 9, पृ. 68-78।
3    सिंह, वीणापाणि (1998)ः ग्रामीण स्वास्थ्य संरक्षण, क्लासिकल पब्लिषिंग कम्पनी, नई दिल्ली, पृ. 72।
4    वर्मा, सुनीता एवं ओंकार प्रसाद (2008)ः विकासखण्ड सेवापुरी में जनसंख्या और अधिवास का भौगोलिक अध्ययन, उत्तर भारत भूगोल पत्रिका, अंक 38, संख्या 3, पृ. 35-39।
5    वर्मा, रमेष कुमार (2014)ः वाराणसी नगर में जनसंख्या तथा आवास वृद्धि एवं स्वास्थ्य सुविधाएँ, राष्ट्रीय भौगोलिक पत्रिका, वर्ष 5, अंक 1, पृ. 93-108।
6    Singh, Abha Lakshmi (2005): Rural Women Work & Health, The Women Press, New Delhi, pp 32-34.  
7    Singh, Binod Kumar, Rashmi and Ram Bilas (2013): Housing Conditions, Housing Stocks and Housing Shortage in Uttar Pradesh: An Inter District Analysis, National Geographical Journal of India, Vol. 59, Pt (1), pp. 31-52.
8    Singh, Abha Lakshmi and Bala, Shanawaz Ahmad (2015): Health Implications of Poor Housing Conditions in Srinagar City, Annals, Nagi, Volume-XXXV (No.1), pp. 11-25.
9    Singh, Abha Lakshmi and  Asgher, Md. Sarfaraz, (2005): Rural Women”s Household Work and Health: A Case Study, Transaction, Vol. 29, No. 1, pp. 83-94.  
10    Okello, D. (2007). Empowering Women Through ICT: Enhancing Access to Information by Rural Women. http//www.govmonitor.com/node/1454. Accessed February 2nd, 2009.

Recomonded Articles:

Author(s): किशोर कुमार अग्रवाल, राजेशवरी

DOI:         Access: Closed Access Read More

Author(s): विवेक कुमार शर्मा, तपेशचन्द्र गुप्ता

DOI:         Access: Closed Access Read More

Author(s): डा. स्कन्द मिश्रा

DOI:         Access: Open Access Read More

International Journal of Reviews and Research in Social Sciences (IJRRSS) is an international, peer-reviewed journal, correspondence in....... Read more >>>

RNI:                      
DOI:  

Popular Articles


Recent Articles




Tags